आप भी अपना विज्ञापन यंहा दिखा सकते है सिर्फ 500/-M में कॉल करे 9811695067






Breaking News

आप हमारे ब्लॉग पर बिहार से जुड़े खबर पढ़ सकते है !, आप भी हमें खबर भेज सकते है !| आप इस ब्लॉग पर अपने विचार स्वतंत्र रूप से रखे हम पाठको के साथ शेयर करेंगे ।

बिहार सरकार पढ़ने के लिए दे रही है Loan | जॉब तक वापसी का नो टेंशन | STUDENT CREDIT CARD YOJNA

 STUDENT CREDIT CARD YOJNA -चार लाख रुपये तक LOAN  लेने वाले विद्यार्थियों को सरकार कर्ज वापसी के लिए साढ़े सात साल का समय देगी।


 







Student credit card yojna -चार लाख रुपये तक LOAN  लेने वाले विद्यार्थियों को सरकार कर्ज वापसी के लिए साढ़े सात साल का समय देगी। कर्ज लेने वाले विद्यार्थियों पर इसकी वापसी का कोई दबाव नहीं होगा। पढ़ाई पूरी करने के एक वर्ष बाद तक की मियाद मॉरीटोरियम अवधि मानी जाएगी। इस दौरान तो कर्ज नहीं ही वसूला जाएगा। इसके साथ ही जब तक कर्जधारक विद्यार्थी को जब तक नौकरी नहीं मिल जाती या वह कोई स्वरोजगार प्रारंभ नहीं करता ऋण की वसूली स्थगित रहेगी।दो लाख रूपए तक के कर्ज चुकाने के लिए विधार्थी को लगभग पांच वर्ष का समय दिया जायेगा 

कैसे करना पड़ेगा आवेदन ?

बिहार गवर्नमेंट की वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करनी होगी 
स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड के आवेदक ऑनलाइन आवेदन करने के 60 दिनों के अंदर अनिवार्य रूप से किसी भी कार्य दिवस को सुबह 10 बजे से शाम के 6 बजे के बीच जरुरी दस्तावेजों के साथ DRCC पहुँच कर दस्तावेजों का सत्यापन कराना सुनिश्चित करना पड़ेगा !


शिक्षा ऋण प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को यदि किसी प्रकार की कठिनाई होती है तो आवेदक टॉल फ्री नंबर 18003456444 पर कॉल कर अपनी शिकायत दर्ज करा सकेंगे। 

योजना की देखरेख - स्टेट प्रोजेक्ट मैनेजमेंट यूनिट करेगा !
nitish kumar student credit card meeting के लिए इमेज परिणाम
स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना की मॉनीटरिंग का जिम्मा सरकार ने शिक्षा विभाग के अधीन काम करने वाली स्टेट प्रोजेक्ट मैनेजमेंट यूनिट को सौंपा है। यूनिट योजना के कार्यान्वयन के साथ ही इसके प्रभावी अनुश्रवण के लिए जिम्मेवार होगी। जिलों में डीएम योजना की मासिक समीक्षा करेंगे और रिपोर्ट जिले के प्रभारी मंत्री को भेजेंगे।
सरकार वर्तमान में असक्षम छात्रों के लिए ऋण माफी पर भी  विचार कर रही है !
nitish kumar student credit card meeting के लिए इमेज परिणाम
ऋण के लिए बैंक के स्थान पर वित्त निगम की स्थापना होने का बड़ा फायदा है। सरकार कानून में यह प्रावधान भी करने पर विचार कर रही है कि यदि ऋण लेने वाले किसी विशेष परिस्थिति में ऋण वापस करने में सक्षम नहीं हो पाते हैं तो ऐसी स्थिति में उनकी ऋण माफी पर भी सरकार विचार करेगी। स्वयं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी हाल में इस ओर इशारा किया है कि सरकार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड से ऋण लेने वाले के कर्ज माफ भी कर सकती है।




No comments