आप भी अपना विज्ञापन यंहा दिखा सकते है सिर्फ 500/-M में कॉल करे 9811695067






Breaking News

आप हमारे ब्लॉग पर बिहार से जुड़े खबर पढ़ सकते है !, आप भी हमें खबर भेज सकते है !| आप इस ब्लॉग पर अपने विचार स्वतंत्र रूप से रखे हम पाठको के साथ शेयर करेंगे ।

जब मोदी जी से एक पत्रकार ने पूछा – आपने मुसलमानों के लिए क्या किया है? जानिए क्या था उनका जबाब !


जब मोदी जी से एक पत्रकार ने पूछा – आपने मुसलमानों के लिए क्या किया है? जानिए क्या था उनका जबाब !

यू तो हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपने बेबाक अंदाज के लिए जाने जाते है ! उनका ड्रेसिंग सेंस सब कमाल का होता है , अपनी बात को बड़ी बेबाकी से

वो भी उदाहरण के साथ समझा देते है सामने वाले को कुछ ऐसे ही वाक्या का जीकर हम आप के साथ कर रहे जब उन्होंने अलग - अलग पत्रकार को अपने

जबाब से अचंभे में दाल दिया , कई बार उनके जबाब की तारीफ और सराहना मिली तो कई बार आलोचना का भी उन्हें शिकार होना पड़ा !




हमें याद है वो वाक्या  जब आज तक में बेहतरीन टीवी एंकर "श्री प्रसून वाजपयी" ने उनसे सवाल किया था!  आप को दिल्ली आने से कौन रोक रहा है ? 

बात तो २०१३ की उस समय नरेन्द्र मोदी गुजरात के मुख्य मंत्री और BJP के प्रधानमंत्री पद के लिए उनके नाम की घोसना नहीं किया गया था ! चुकी BJP में कई दिग्गज नेता थे और सब प्रधानमंत्री पद के लायक इस पर प्रसून  जी ने उनसे आपसी मतभेद जैसी कोई निकलवाने के लिए सवाल किया था पर उनका यह सवाल उनपर उल्टा पर गया

मोदी जी  का जवाब था- पर्सून जी हम दिल्ली में बैठ कर आपको यह इंटरव्यू दे रहे लगता आपको स्टुडियो वाले ने बताया नहीं की आप का इंटरव्यू पैनल दिल्ली में ही है , यही यकीन नहीं होता तो मैप देख लीजिये !

2013 में ही जब नरेंद्र मोदी बीजेपी के लिए देशभर में घूम-घूमकर प्रचार कर रहे थे तो एक जगह उनसे एक पत्रकार ने पूछा – आपने मुसलमानों के लिए क्या किया है?
मोदी जी का जवाब था – कुछ नहीं.

पत्रकार हतप्रभ था. पूछा – तो आप इसे स्वीकार करते हैं?

मोदी जी  बोले – मुझसे पूछें कि मैंने हिंदुओं के लिए क्या किया है?

पत्रकार ने पूछा – आपने हिंदुओं के लिए क्या किया?

मोदी जी  बोले – कुछ नहीं. मैंने जो भी किया है, वो हर गुजराती के लिए किया है.
इस प्रकार उनसे एक  एक टी वी चैनेल के इंटरव्यू में पूछा था गुजरात दंगा में बहूत सारे मुसलमान मारे गए इस पर आपको दुःख नहीं हुआ ?

उनका जबाब था - अगर गाड़ी के निचे कोई पिल्ला भी आ जाता है तो बहूत दुःख होता है वो मुसलमान भाई थे

उनके इस जबाब को कई जगह तोड़ मरोर का पेश किया गया उनकी इस जबाब के लिए कड़ी आलोचना भी झेलनी पड़ी !




बात इसी बर्ष की है जब ZEE NEWS के एंकर सुधिर चौधरी ने उनसे रोजगार को लेकर उनसे सवाल किया था जिसपर उन्होंने देश में

पकोड़ा बेचना को रोजगार बताया ! इस पर भी  देश में काफी चर्चा हुई !



*इससे जोमै  चन्दन कुमार पटेल ने ये सिखा और जाना कुल मिलाकर कर नतीजा ये आता है की आपका बयान कई बार आपको तारीफ तो कई बार आलोचना करवा सकती है अगर ऐसा प्रधानमंत्री के साथ हो सकता है तो मै   किस खेत का गरज मुली हूँ ! अगर आपको अच्छा लगा हो तो शेयर कर दीजियेगा प्लीज !

ये भी पढ़े -




No comments