आप भी अपना विज्ञापन यंहा दिखा सकते है सिर्फ 500/-M में कॉल करे 9811695067






Breaking News

आप हमारे ब्लॉग पर बिहार से जुड़े खबर पढ़ सकते है !, आप भी हमें खबर भेज सकते है !| आप इस ब्लॉग पर अपने विचार स्वतंत्र रूप से रखे हम पाठको के साथ शेयर करेंगे ।

Nirbhaya के दोषियों को अब 22 जनवरी नहीं इस दिन होगी फांसी, सुनिए Asha Devi ने क्या कहा

Nirbhaya के दोषियों को अब 22 जनवरी नहीं इस दिन होगी फांसी, सुनिए Asha Devi ने क्या कहा


Nirbhya के दोषियों को 22 जनवरी तक फांसी देने के आसार कम ही दिख रहे है | आपको बता दे की निर्भया के एक आरोपी ने राष्ट्पति रामनाथ कोविंद को दया याचिका भेजा था | जिसे महामहिम ने ख़ारिज कर दिया था | 

आपको बता दे की पटियाला कोर्ट ने चारों आरोपी को फांसी की सजा के लिए 22 जनवरी की तारीख पहले ही दे रखी है | ऐसे में राष्ट्पति को सात दिन पहले क्षमा याचिका भेजनी होती है यही राष्ट्पति उसे मना कर देते है तो फांसी का रास्ता साफ़ हो जाता है | लेकिन इस मामले में एक और कानूनी दाव पेंच आ रहा है वो है पटियाला कोर्ट का आदेश जिसमे कहा गया है की जब तक चारों आरोपियों में से किसी के उपर यही कोई कानूनी प्रकिया बची रहती है तो अंतिम करवाई होने तक किसी को फांसी नहीं दिया जायेगा |

इसी का फयादा आरोपी उठा रहे है और राष्ट्पति के पास एक साथ दया याचिका न भेज कर अलग - अलग कर भेज रहे है ताकि फांसी की तारीख को आये बढाया जाये | लेकिन आप ने वो कहावत तो सुनी होगी - बकड़े की माँ कब तक खैर मनाएगी -------

चारों में से एक की दया याचिका ख़ारिज हो गयी है यदि बाकी आरोपी अलग - अलग करके भी दया याचिका भेजते है तो भी उन्हें २० दिन से ज्यादा कोई नहीं बचा सकता है | मालूम होना चाहिए राष्ट्पति के दया याचिका निरश्त के 7 दिन के भीतर यदि दूसरा याचिका नहीं आता तो कोई और याचिका नहीं ली जाएगी और सभी को उसी सात दिन के बाद कोर्ट अपने हिसाब से फांसी की नयी तारीख देगी - इसके बाद कोई आप्शन नहीं बचता |

विशेष जानकारी के लिए विडियो देखे  




No comments