आप भी अपना विज्ञापन यंहा दिखा सकते है सिर्फ 500/-M में कॉल करे 9811695067






Breaking News

आप हमारे ब्लॉग पर बिहार से जुड़े खबर पढ़ सकते है !, आप भी हमें खबर भेज सकते है !| आप इस ब्लॉग पर अपने विचार स्वतंत्र रूप से रखे हम पाठको के साथ शेयर करेंगे ।

Railway Group D : विदशी यात्री और लेख़क सम्बंधित महत्वपूर्ण General Knowledge

Railway Group D : विदशी यात्री और लेख़क सम्बंधित महत्वपूर्ण General Knowledge 

दोस्तों आज के पोस्ट में मै आप लोगो को विदेशी यात्री ( foreigner Visitor ) और विदेशी लेख़क ( foreigner Writer ) से जुड़े महवपूर्ण Point बताऊंगा जो अक्सर railway Group d ,Ntpc , ssc ,banking जैसे competitive Exam में पूछे जाते है | 


टेसिय्स : ईरान का राज्यवैध था | 
*हिरोडोटस को इतिहास का पिता ( Father of History ) कहते है ,उन्होंने Historica नामक Book लिखा था जिसमे भारत और फ़ारस के संबंधो का जिक्र मिलता है |
*निर्याकस  ,आनेसृकट्स ,आसिटोबुलस सिकंदर के साथ भारत आने वाले लेख़क थे |
*मेगास्थनीज सेलुकस निकेटर का राजदूत था और चन्द्रगुप्त मौर्य के दरबार में आया था | इंडिका (Indica ) मेगास्थनीज के पुस्तक का नाम है |
*डाइमेकस अन्तियोक्स का राजदूत था और बिन्दुसार के दरबार में आया था | 

*डयोनिसियस मिस्र के नरेश टालमी फिडेलफ़स का राजदूत था और अशोक के दरबार में आया था | 
*भारत के भूगोल ( Geography of India ) के लेख़क टालमी थे |
*नेचुरल हिस्ट्री ( Natural History ) के लेख़क पिल्नी थे |

*फाहियान चन्द्रगुप्त द्वितीय के दरबार में आया था |
*हुयाँसंग हर्षवर्धन के दरबार में आया था | हुयाँसंग को यात्रियों का राजकुमार भी कहा जाता है |
* अलबरूनी मोहमद गजनी के साथ भारत आया था | इसने किताब -उल -हिंद या तहकीक -ए हिंद ( भारत की ख़ोज ) नमक पुस्तक लिखा था |
*मार्कोपोलो इटली से भारत आया था | इसे एशिया पहुचने वाला प्रथम यूरोपी भी माना जाता है | यानी रेशम मार्ग की यात्रा करने वाले सर्वप्रथम यूरोपियनों में से एक था |



No comments